जीवन के नायाब अनुभव .....

The Sad Story Of My Dominar 400 - Part 2 | मेरी Dominar 400 की दुःखभरी दास्ताँ - Part 2

No comments
The Story of My Bajaj Dominar 400 ABS, Bajaj Dominar 400 Review, The Story of My Bajaj Dominar 400 Ownership Experience

मैं बाइक को फिर से सर्विस सेंटर ले कर गया l अब तो सर्विस सेंटर के सभी लोग मुझे अच्छी तरह पहचान गए थे l मेरी बाइक को देखने वाला वरिष्ट मैकेनिक और सर्विस सेंटर के मैनेज़र को समझ नहीं आ रहा था की मेरी ही बाइक मे एक के बाद एक इतनी समस्याएँ क्यों आ रही थी ? खैर, उन्होंने पेट्रोल टैंक का कैप खोला और उसे अच्छी तरह साफ़ करके, बाइक को चेक करके मुझे बाइक दे दी l उन्होंने बोला की ये समस्या अब नहीं आएगी पर अगले दिन से ही मुझे ये समस्या आने लग गयी l इसी तरह दो-तीन बार उन्होंने मेरी बाइक के पेट्रोल टैंक का कैप साफ़ किया पर समस्या जस की तस रही l

इस ब्लॉग को आरम्भ से पढने के लिए यहाँ क्लिक करें l

मुझे लग गया की ये इनके बस का काम नहीं है इसीलिए मैंने खुद ने ही रिसर्च चालू की l रिसर्च के दौरान मुझे पता लगा की मेरी BS-4 बाइक के पेट्रोल टैंक के कैप को साफ़ करने का कोई फायदा नहीं है चूँकि टैंक से निकलने वाली पेट्रोल की एक्स्ट्रा फ्यूम एक पाइप के जरिये एक पार्ट के द्वारा अवशोषित की जाती है जिसे चारकोल कनिस्टर कहा जाता है l मन मे विचार आया कि हो ना हो जरुर ये पाइप मुडा हुआ होगा या बंद होगा l सर्विस सेंटर पहुँच कर मैंने उन्हें ये बात बताई, उन्होंने पेट्रोल टैंक खोला और हमने देखा की चारकोल कनिस्टर जाने वाला पाइप मुडा हुआ था l मुझे बहुत ख़ुशी हुई कि चलो आखिर समस्या तो मिली, उसे सही किया गया और फिर वो समस्या दुबारा नहीं आयी l

इसी बीच हमारी लेह यात्रा का समय पास आ गया l पिछले लगभग एक महीने से बाइक ने कोई भी समस्या नहीं दी थी और अब ये काफी अच्छी चल रही थी, अब मैं भी निश्चिन्त हो गया था कि अब मैं लेह यात्रा पर जा पाउँगा l सितम्बर 9 को हम तीन दोस्त जयपुर से लेह की बाइक यात्रा पर निकल गए l 12 सितम्बर को हमारी केलोंग से पांग की यात्रा के दौरान जब मैं नकिला पास पर था तब मुझे बाइक के इंजन के पास से धुआँ उठता दिखाई दिया l इसे देख कर मैं बहुत तनाव मे आ गया था और मुझे लगा की जिस बात का मुझे डर था वही हुआ, लगता है बाइक ने मुझे धोखा दे ही दिया l निरिक्षण करने से पता लगा की बाइक से कुलेंट निकल गया है और ये कुलेंट जब गर्म इंजन पर गिरा उसी वज़ह से धुआँ उठा l इसके बाद क्या हुआ और कैसे मैंने ये यात्रा पूर्ण की, इस सम्पूर्ण घटनाकर्म को पढने के लिए यहाँ क्लिक करें l बाद मे हम इस निष्कर्ष पर पहुँचे की कुलेंट का निकलना कोई खराबी नहीं थी, कई बार कुलेंट गर्म होकर ओवरफ्लो पाइप से बाहर निकल जाता है l कुलेंट का उपयोग करने वाली बहुत सारी बाइक लेह यात्रा कर आयी परन्तु मेरी ही बाइक से कुलेंट क्यों ओवरफ्लो हुआ, ये आज भी रहस्य है l

इस यात्रा के बाद मैंने मेरी बाइक सर्विस पर डाल दी और सर्विस के दो-तीन महीने बाद तक बिना किसी समस्या के बाइक चलती रही l फिर अचानक बाइक मे थोड़ी थोड़ी मिसिंग होने लग गयी, रफ़्तार बढ़ाता था तो झटके से महसूस होते थे l मैंने एक-दो बार सर्विस सेंटर पर दिखवाई तो उन्होंने स्पार्क प्लग बदल दिया पर ये समस्या ऐसे ही चलती रही l मैं अगर बाइक को तेज़ गति से  चलाता था तब तो बाइक ठीक चलती थी मगर धीरे होते ही झटके आने लगते थे l मुझे लगा की शायद एयर फ़िल्टर ख़राब हो गया होगा इसीलिए मैंने एयर फ़िल्टर भी बदलवा लिया मगर इससे भी कोई ख़ास फायदा नहीं हुआ l मैं कुछ और समय बाइक को ऐसे ही चलाता रहा l

समय के साथ साथ बाइक मे झटके की समस्या बहुत बढ गई थी और इसी बीच मेरी बाइक का सर्विस का समय भी आ गया था l मैंने मेरी बाइक सर्विस पर डाल दी l इसी दौरान बजाज ने Dominar के लिए एक नया ECU अपडेट निकाला जिसका नंबर था 117 l इससे पहले भी लेह यात्रा पर जाने से पहले मैं एक बार ECU अपडेट करवा चूका था l ECU का मतलब होता है इलेक्ट्रॉनिक कंट्रोल यूनिट, ये एक तरह से प्रोसेसर होता है जो की बाइक के विभिन्न इलेक्ट्रोनिक सिस्टम्स को कंट्रोल करता है, जैसे की Dominar मे ये हवा और पेट्रोल के अनुपात, जिसको इंजन मे भेजा जाता है, को कंट्रोल करता है, ABS को भी कंट्रोल करता है इत्यादि-इत्यादि l मैंने सर्विस सेंटर पर बाइक की सारी समस्यांए लिखवा दी और साथ ही नया ECU अपडेट करने को भी बोल दिया l शाम तक सर्विस करने के बाद मुझे मेरी बाइक दे दी गयी l सर्विस के बाद मुझे लगा था की बाइक सही हो गयी होगी पर एक-दो दिन बाद ही बाइक मे झटके की समस्या पहले से भी ज्यादा हो गयी l रफ़्तार पूरी बढाने के बाद भी बाइक आगे नहीं बढ़ पा रही थी, ये समस्या कभी भी आ जाती थी l मैं किसी को भी ओवरटेक नहीं कर पा रहा था साथ ही मे हाईवे पर ये बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता था l

मैं फिर से सर्विस सेंटर पहुँचा l हमेशा की तरह इस बार भी उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा था l मैं बाइक को सर्विस सेंटर डाल कर आ गया l उन्होंने कहा की हम बाइक को दो दिन अपने पास रखेंगे जिससे हम सब चेक कर सकें l दो दिन बाद मैं बाइक लेने पहुँचा तो मुझे बताया गया की थ्रोटल बॉडी मे खराबी थी, उस पर कार्बन जमा हो गया था इसीलिए उसे बदल दिया गया है l मुझे ये बात गले से नहीं उतरी और लग रहा था की थ्रोटल बॉडी मे कोई समस्या नहीं होनी चाहिए पर मैं क्या कर सकता था ? खैर थ्रोटल बॉडी बदल कर बाइक मुझे दे दी गयी और कहा गया की अब आप इसको टेस्ट करो और अगर कोई समस्या आये तो फिर बताना l मैं समझ चूका था कि इन्होने तुक्का मारा है और इनको भी इस समाधान पर पूर्णतया विश्वाश नहीं है l

थ्रोटल बॉडी बदलवाने के बाद मैंने बाइक चलाना चालु किया पर जल्द ही मुझे समझ आ गया की झटके कम जरुर हुए है पर समस्या अभी भी वहीँ है l मैं पूरी तरह से परेशान हो चूका था, मैंने कंपनी के इंजिनियर से संपर्क किया l उनको पूरी समस्या समझाई और उन्होंने मेरी बाइक को दुबारा सर्विस सेंटर तलब कर लिया l कंपनी के इंजिनियर ने मेरी पूरी बात तस्सली से सुनी और बाइक तो पूर्णतया सही करने का आश्वाशन दिया l आखिरकार, दो-तीन दिनों के बाद मुझे मेरी बाइक दी गयी l इस बार उन्होंने फ्यूल पंप बदल दिया था l मेरी समझ मे बिलकुल भी नहीं आया की सिर्फ एक साल पुरानी बाइक की थ्रोटल बॉडी और फ्यूल पंप कैसे ख़राब हो सकते है?

इसके बाद से मैं मेरी बाइक पिछले पाँच-छ महीने से चला रहा हूँ l मैं बाइक को पूर्णतया सही तो नहीं बोलूँगा पर फिर भी बाइक अब पहले से काफी सही हालत मे है l अभी भी बाइक मे थोडा थ्रोटल लेग है पर मैंने इसके साथ जीना सीख लिया है l मैंने सोचा है की मुझे ही इस पर रिसर्च करनी होगी और जब तक सर्विस सेंटर के पास इसे सही करने की कोई उचित दिशा नहीं है, उन्हें अवसर देना व्यर्थ होगा l

मैंने Bajaj की अब तक की सबसे आधुनिक और महंगी बाइक खरीदी l Dominar वाकई मे एक बहुत ही अच्छी बाइक है और इसमें बहुत क्षमता है l मैंने इसे अधिकतम 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार पर भी चलाया है और उस स्पीड पर भी ये बाइक बहुत स्थिर और शानदार महसूस होती है l इस बाइक ने पुरे बाज़ार पर अपनी एक अलग छाप छोड़ी है पर केवल एक अच्छा प्रोडक्ट बनाना ही काफी नहीं होता जब तक की इसके सही तरह से रखरखाव करने की ट्रेनिंग ना दी जाए l बाइक के बाज़ार मे आते ही मैंने उसे खरीद लिया था, क्या ये मेरी गलती थी ? इस आधुनिक बाइक का किस तरह से रखरखाव करना है, इसकी उचित और सही जानकारी शायद Bajaj ने अपने यहाँ काम करने वाले कर्मचारियों को नहीं दी l अगर बाइक मे कोई बड़ी समस्या आ जाए तो उसका निवारण किस प्रकार किया जाना चाहिए, ये बहुत महत्वपूर्ण है l

मेरा मानना है कि मेरी बाइक मे मात्र एक ही समस्या थी और वो थी इंजन से ऑइल लीक होना l उसके बाद की सारी समस्याएँ खुद सर्विस सेंटर ने उत्पन्न की चाहे वो स्टार्ट की समस्या हों या पेट्रोल टैंक के एयर लॉक की l झटके की समस्या पर भी अच्छी तरह से काम नहीं किया गया, क्या पता इसकी वज़ह ECU अपडेट हो? थ्रोटल बॉडी बदलना और फिर भी समस्या रहने पर उसके बाद फ्यूल पंप बदलना, ये बड़ी समास्याओं के समाधान करने मे रणनीति की कमी और दिशाहीनता दर्शाता है l

हालाँकि बजाज ने सुझाव लेकर इस बाइक को और बेहतर बनाने की कोशिश की है और इसी क्रम मे अब बजाज नयी Dominar 2019 लाँच करने वाली है l अगर बजाज को वास्तव मे विश्वस्तरीय प्रोडक्ट बनाने है तो सेल्स के साथ साथ सर्विस की ओर भी ध्यान देना होगा l आशा करता हूँ बजाज इस दिशा मे काम करेगी l

ये ब्लॉग लिखे जाने तक मेरी बाइक लगभग 15,500 किलोमीटर चल चुकी है और आज भी मैं उस पंडित को ढूंढ रहा हूँ जिसने मुझे बाइक लेने के लिए शुभ मुहूर्त बताया था l

हमारे द्वारा की गयी लेह लद्दाख़ यात्रा को आरम्भ से पढने के लिए  यहाँ क्लिक करें l

No comments :

Post a comment

Popular Posts